Puranpoli Ghar Success Story: साइकिल पर पुरनपोली बेचते बेचते, इस सख्श ने बना डाली करोड़ो की कंपनी!

Puranpoli Ghar Success Story

Puranpoli Ghar Success Story:

किसी ने सही ही कहा है कि सपने वही होते हैं जिन्हें हम नींद में नहीं देखते, सपने वही होते हैं जो हमें नींद ही नहीं आने देते। यह सत्य है और इसका उदाहरण है कर्नाटका के निवासी KR भास्कर जिन्होंने अपने सपनों को हकीकत में बदलने का साहस दिखाया है।

रोजाना इंटरनेट पर कई बिजनेस और स्टार्टअप की कहानियां साझा होती हैं, जिन्हें पढ़कर आपको बहुत प्रेरणा मिलती है। आज हम एक और सफल स्टार्टअप की कहानी लेकर आए हैं, जिसमें यह साबित होता है कि किसी को बुरा समय देखने के बावजूद उन्होंने एक करोड़ों की कंपनी की स्थापना की है।

इस कहानी का हीरो है KR भास्कर, जो Puranpoli Ghar कंपनी के मालिक हैं और आज वे इस स्टार्टअप से करोड़ों रुपए कमा रहे हैं। इस लेख में हम आपको Puranpoli Ghar की सफलता की कहानी सुनाएंगे, जिसमें भास्कर ने कैसे अपने व्यापार को करोड़ों का रूप दिया।

Puranpoli Ghar की शुरुआत

KR भास्कर कर्नाटका राज्य के निवासी हैं और उनका जन्म एक गरीब परिवार में हुआ था। ये बचपन से ही जानते थे कि वे कुछ बड़ा करना चाहते हैं, इसलिए उन्होंने बहुत छोटी आयु में ही काम करना शुरू कर दिया था।

भास्कर ने अपने एक साक्षात्कार में बताया कि उन्होंने सिर्फ 12 साल की आयु में बेंगलुरु के एक होटल में वेटर के रूप में काम करना शुरू किया था, जहां उन्होंने पाँच साल तक होटल के बर्तन और टेबल साफ किए थे। इसके बाद, उन्होंने 8 साल तक डांस इंस्ट्रक्टर के रूप में काम किया।

इस प्रकार, वह न केवल छोटी नौकरियाँ करते करते अपना पालन-पोषण कर रहे थे, बल्कि इस दौरान उन्होंने कई विभिन्न क्षेत्रों में अपने पैसे जोड़े थे। इस समय में, उन्होंने अपने स्वयं के पौराणिक साइकिल पर पुरानपोली बेचने का निर्णय लिया, जिससे Puranpoli Ghar कंपनी की शुरुआत हुई।

Puranpoli Ghar Success Story

साइकिल से लेकर करोड़ों की कंपनी तक

शुरुआत में, KR भास्कर अपनी पुरानपोली साइकिल को बेचते थे और इसके माध्यम से रोजी-रोटी कमाते थे। एक दिन उनको एक कुकिंग शो का आमंत्रण मिला, जिसके बाद उन्होंने लोकल एरिया में अच्छी पहचान बनाई।

इसके बाद, उन्होंने धीरे-धीरे अपने पुरानपोली व्यापार को एक ब्रांड में बदलने का निर्णय लिया और पहला Puranpoli Ghar आउटलेट कर्नाटका में खोला। इसके बाद, भास्कर और उनकी कंपनी ने तेजी से विस्तार किया।

खुल चुके हैं कई सारे Outlets

आज, KR भास्कर की कंपनी Puranpoli Ghar के कई आउटलेट्स महाराष्ट्र और कर्नाटक राज्य में खुल चुके हैं। इन आउटलेट्स के माध्यम से, कंपनी महीने में करोड़ों की बिक्री करती है और हर दिन 1000 से ज्यादा Puranpoli बेचती है।

बता दें कि Puranpoli के अलावा, यह कंपनी अपने आउटलेट्स पर 400 से अधिक विभिन्न स्नैक्स भी बेचती है। आज, यह कंपनी KR भास्कर के आत्मविश्वास और संघर्ष की वजह से करोड़ों में बनी है।

Puranpoli Ghar की सफलता कहानी इंटरव्यू

हम उम्मीद करते हैं कि आपको यह Puranpoli Ghar की सफलता कहानी पसंद आई होगी। इसे अपने दोस्तों और परिवार सदस्यों के साथ साझा करें ताकि और लोग भी इससे प्रेरित हों। हमारे बिजनेस पेज पर और भी रोचक लेख पढ़ने के लिए ज़रूर जाएं।

Also Read: Jyothy Labs Story: बहुत बार फेल हुए, लेकिन ₹5000 उधार लेके बना डाली 14000 करोड़ की कंपनी!

Also Read: Tushar Jain Success Story: बैग बेचने से शुरू होकर ₹250 करोड़ के बैग से साम्राज्य बनाने की एक अनोखी कहानी